मंगलवार, 21 फ़रवरी 2012

दिलका दौरा 2

बेटे ने ambulance  बुला ली. १० मिनट में ambulance  हाज़िर हो गयी. उसके साथ आये doctors  ने मेरा खून आदि  चेक किया और ambulance  में तुरंत डाल के अस्पताल की तरफ रवाना हो गए.

क्रमश:

( क्रमश: इसलिए की इस समय भी थकान के कारण मुझसे अधिक लिखा नही जा रहा. अब आगे.....)



अस्पताल पहुँचने से पूर्व  बेटे ने मेरी एक डॉक्टर सहेली फोन लगाया. वो अंडमान में छुट्टीयाँ मना रही थी. उसे खबर मिलतेही उसने अस्पताल की cardiologist  को फोन मिलाया. वो महिला डॉक्टर घर लौट रही थीं.उन्हों ने तुरंत गाडी घुमाई और मेरे पहुँचने के पहले अस्पताल में पहुँच गयीं.

आपातकालीन विभाग में पहुंचतेही तरह तरह के टेस्ट शुरू हो गए. मुझे एक injection  दिया गया. मूह में दवाइयाँ डाल दी गयीं. अब खून लेना था नसमे से. मेरी नसे मिलना एक महत्प्रयास है. कुछ १२ लोगों ने कोशिश की तब जाके एक नस मिली. खून खींचा गया....वहीं IV  लगा दी गयी. ECG  लिया जा रहा था. पहले ECG  में पता चला की ये दौरा पहला नहीं था. इसके पहले पड़ चुका था.उस कारन जो damages  हो गए थे उन्हें पूर्ववत करना मुमकिन नहीं था. ये सब बातें मेरे बेटे तथा बहन को बताईं जा रही थी. एक रात के लिए तो उन्हों ने मुझे रूम में रखने की सोची,जबकि मैने घर जाने की रट लगाई हुई  थी.

खैर! उस रात बहन मेरे साथ रुक गयी. दूसरे दिन सुबह्से फिर एकबार टेस्ट शुरू हो गए. जैसे,जैसे टेस्ट होते जा रहे थे,मुझे doctors के  चेहरे गंभीर होते नज़र आ रहे थे. फिर बहन तथा बेटेसे बताया गया की अब तुरंत ICU  में शिफ्ट करना है. OT  तैयार रखा  जाये.अब मेरे पति जो शहर में नहीं थे,उन्हें तुरंत बुला लिया गया!

क्रमश:( इसके लिए माफी चाहती हूँ!)

18 टिप्‍पणियां:

रचना दीक्षित ने कहा…

क्षमा जी कुछ दिन शांति दीजिए दिल के साथ दिमाग को भी. शीघ्र स्वस्थ हो घर वापस आइये. जल्दी और बहुत जल्दी. हम सब आपके लिये दुआ करेंगे.

ali ने कहा…

आप सेहतयाब रहें बस !

M VERMA ने कहा…

बेशक कुछ दिनों तक लेखन को विराम दे दें.
स्वास्थ्य लाभ की कामना

डा. अरुणा कपूर. ने कहा…

क्षमा जी!...आप को समय पर,सही ट्रीटमेंट मिल गया,इसे ईश्वर की कृपा ही समझिएँ...अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें...आप को आराम की जरुरत है!

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

शुभकामनायें.... शीघ्र स्वस्थ हों....

rashmi ravija ने कहा…

रश्मि प्रभा जी से आपके अस्वस्थ होने की जानकारी मिली थी...
उनसे मैं आपके स्वास्थ्य की खबर लेती रहती थी....आप कृपया पूर्णतः आराम करें और अपना ख्याल रखें.

kase kahun?by kavita verma ने कहा…

aap sheeghr swasthy labha kare yahi kamna hai.

ज्योति सिंह ने कहा…

are mujhe khabar hi nahi hui ki aapki tabiyat itni bigad gayi rahi ,dua karti hoon jald hi poori tarah thik ho jaaye aap .

Kunwar Kusumesh ने कहा…

आप कृपया पूर्णतः आराम करें और अपना ख्याल रखें.

अभिषेक प्रसाद ने कहा…

क्षमा मैडम, आप जल्द ही स्वस्थ हो कर हमारे बीच पहुंचे। उपरवाले से दुआ कर रहूँगा आपके स्वस्थ जीवन के लिए. अभी तो मेरी सलाह मान कर अपने दिल और दिमाग को शांत रखे और अपना पूरा ध्यान अपनी सेहत को अच्छी बनाने में लगाएं. आपका लेखन और साथ दोनों मुझे चाहिए. उम्मीद करता हूँ जल्द ही आपसे स्वस्थ मुलाक़ात होगी।

सुरेन्द्र "मुल्हिद" ने कहा…

u get well first and then come back to tell the whole sequence.

ajit gupta ने कहा…

आपको अभी आराम की सख्‍त आवश्‍यकता है, पहले आराम कीजिए।

वन्दना ने कहा…

अभी तो आपको सिर्फ़ और सिर्फ़ रैस्ट करना चाहिये ……ऐसे हाल से गुजरी हैं फिर भी लेखन ………ये गलत बात है…………हमे आपकी तंदरुस्ती की फ़िक्र है आप जल्द से जल्द स्वस्थ हो जाइये फिर तफ़सील से बताइयेगा।

mark rai ने कहा…

Abhi maine padha ki aapki health thik nahi...aap complete rest le aur fir puraane awataar me ham logo se rubaru ho.....mai aapke jald swasth hone ki kaamna karta hoon........

संजय भास्कर ने कहा…

आराम करें अपना ख्याल रखें...!

Atul Shrivastava ने कहा…

क्षमा जी आप जल्‍द स्‍वस्‍थ्‍य हों, दुआएं हैं...
आप आराम करें, ब्‍लागिंग बाद में भी हो जाएगी।

आशा जोगळेकर ने कहा…

क्षमा जी आप जल्दी स्वस्थ हो कर वापस आइये । हमारी प्रार्थनाएं आपको शीघ्र ही अपने ब्लॉग मित्रों से फिर मिलवायेंगी पर तबब तक आराम और शांति ।

Rakesh Kumar ने कहा…

क्षमा जी, आप निश्चय ही साहसी हैं,जो अपनी हृदय आघात की गंभीर अस्वस्थता का भी बखूब चित्रण कर रही हैं.मन की शक्ति अभूतपूर्व होती है.

आपका मनोबल सदा बढे और आप शीघ्र ही पूर्ण स्वस्थता और प्रसन्नता को प्राप्त हों,यही दुआ है मेरी.